मॉडलिंग के नाम पर कर रही थी गंदा काम, पुलिस को सुनाई डर्टी पिक्चर की कहानी

0
6


इंदौर। इंदौर के भंवरकुआं थाना पुलिस ने हाल ही में एक बड़े सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है. पुलिस ने मौके से 6 लड़कियों और 3 ग्राहकों को गिरफ्तार किया है. इस सेक्स रैकेट गिरोह का संचालक संतोष पुलिस छापेमारी के दौरान मौके से फरार हो गया. पुलिस उसकी तलाश कर रही है। पुलिस का कहना है कि यहां लंबे समय से गंदा काम चल रहा है। हैरानी की बात यह है कि इस रैकेट का तब पता चला जब एक ग्राहक द्वारा अफेयर के बाद भुगतान न करने पर युवती ने पुलिस को फोन कर दुष्कर्म की शिकायत की। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले की जांच शुरू की तो उन्हें सूचना मिली कि यहां सेक्स रैकेट चल रहा है।

दरअसल, 31 जुलाई की रात भंवरकुवा थाना पुलिस को डायल-100 पर एक युवती का फोन आया तो उस वक्त हड़कंप मच गया. एकता नगर इलाके से इस फोन पर युवती ने कहा कि उसके साथ जबरदस्ती की गई। शिकायत सुनते ही हड़कंप मच गया। डायल-100 से शिकायत मिलने पर महिला पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंची और जांच शुरू की. पुलिस में शिकायत करने वाली युवती विदेश की रहने वाली थी और खुद को फैशन डिजाइनर बता रही थी। पुलिस ने जांच की तो पता चला कि यहां एक फ्लैट में कई दिनों से सेक्स रैकेट चल रहा था। पुलिस ने मौके पर छापेमारी की तो नाबालिग लड़की आपत्तिजनक अवस्था में मिली। साथ ही मौके से भारी मात्रा में आपत्तिजनक सामग्री भी बरामद की गई है।

लड़कियों को मिला ये लालच
पुलिस ने लड़कियों से पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि सेक्स रैकेट संचालकों ने उन्हें इवेंट, मॉडलिंग और फैशन डिजाइनिंग का कोर्स करने को कहा था. कई लड़कियों को नौकरी का लालच दिया गया। लड़कियों का आरोप है कि उन्हें यहां लाकर सेक्स रैकेट में धकेला गया. बदमाशों ने पैसे का लालच देकर अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी दी।

पुलिस ने कहा
भंवरकुआं थाना प्रभारी शशिकांत चौरसिया ने बताया कि मौके से छह लड़कियों समेत तीन युवकों को हिरासत में लिया गया है. ये लड़कियां यहां मॉडल और फैशन डिजाइनर के तौर पर रहती थीं। इनमें से कुछ लड़कियां मॉडल और फैशन डिजाइनर भी हैं। इस रैकेट के डायरेक्टर संतोष हैं। वह यहां बंगाल, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश समेत कई राज्यों की लड़कियों को लाता था। पुलिस अब फरार आरोपी संतोष की तलाश कर रही है।

टैग: इंदौर से समाचार, एमपी न्यूज



#

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here