मंडीदीप के पास एनएच 46 पर डेढ़ साल पहले बना पुल भारी बारिश के कारण ढह गया।

0
11


भोपालमध्य प्रदेश के बड़े क्षेत्रों में हो रहा है भारी वर्षा अब संकट आ रहा है। सड़क-पुल-पुलिया का अंत हो गया। भोपाल को मंडीदीप से जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग 46 का आज सुबह निर्माण हो गया पुल का एक हिस्सा गिरा चला गया इससे दोनों ओर का यातायात बाधित हो गया। वन-वे रोड से धीरे-धीरे ट्रैफिक डायवर्ट किया जा रहा है, जिससे लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। गनीमत रही कि यह घटना सुबह की है जब सड़क पर ट्रैफिक नहीं था। नहीं तो बड़ा हादसा हो सकता था।

मध्य प्रदेश में भारी बारिश ने सड़कों और पुलों की सूरत भी बदल दी है। भोपाल से मंडीदीप को जोड़ने वाले एनएच-46 पर बने पुल का एक हिस्सा आज सुबह ढह गया। कलियासोत बांध पर बना पुल पानी के बहाव को नहीं झेल सका। पुल का एक हिस्सा और 20 मीटर की इसकी दो रिटेनिंग दीवारें जलमग्न हो गईं। 40 मीटर का खाता क्षतिग्रस्त हो गया है। इसके अलावा पुल के बड़े हिस्से में दरारें आ गई हैं। इस मार्ग पर भारी वाहनों का सर्वाधिक आवागमन होता है। पुल में दरार आने से अब धीरे-धीरे एक तरफ से वाहनों को निकाला जा रहा है। पुल का एक हिस्सा गिरने से सड़क पर गुजरने वाले वाहनों को काफी परेशानी हो रही है।

पुल का निर्माण अक्टूबर 2020 . में किया गया था
मंडीदीप में बना पुल अक्टूबर 2020 में बनकर तैयार हुआ था। पुल का निर्माण ठेकेदार सीडीएस नई दिल्ली द्वारा किया गया था। लेकिन कलियासोत पर बना पुल पानी के बहाव को सहन नहीं कर पाया और उसका एक बड़ा हिस्सा ढह गया।

एक दिन पहले ही डैम का पानी छोड़ा गया था
भोपाल में अब भारी बारिश मुसीबत बन गई है। नदी और बांध के ओवरफ्लो होने के कारण गेट खोले जा रहे हैं। कलियासोत बांध के गेट खोल दिए गए। पानी भोपाल से रायसेन की ओर बहता है। रायसेन के मंडीदीप में कलियासोत पर बना पुल पानी के बहाव को सहन नहीं कर सका। पुल का एक हिस्सा गिर गया। अच्छी बात यह है कि हादसा सुबह उस वक्त हुआ जब पुल पर ट्रैफिक नहीं था। नहीं तो बड़ा हादसा हो सकता था। पुल गिरने से कोई हताहत नहीं हुआ। विभाग के अधिकारियों का कहना है कि पुल के निर्माण की जिम्मेदारी ठेकेदार की है. पूरे मामले की जांच की जा रही है। लापरवाही करने पर ठेकेदार पर कार्रवाई की जाएगी।

टैग: भोपाल ताजा खबर, पुल गिर गया, भारी वर्षा, मध्य प्रदेश ताजा खबर



#

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here