बीबीएल खतरे में है, लीग ने 15 ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को करोड़ों की पेशकश की है

0
9

हाइलाइट

एक खिलाड़ी को अनुबंध के आधार पर बीबीएल खेलने के लिए बाध्य नहीं किया जा सकता है
ऑस्ट्रेलिया के स्टार क्रिकेटर डेविड वॉर्नर 2014 में इस लीग में नहीं खेले थे।
संयुक्त अरब अमीरात की अंतरराष्ट्रीय लीग ने 15 शीर्ष ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों की पेशकश की है

नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया की मशहूर टी20 लीग बिश बैश (बीबीएल) खतरे में है। दरअसल, एशिया में टी20 लीग ने बीबीएल में खेलने वाले कई ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को करोड़ों की मोटी रकम चुकाई है। खिलाड़ियों को बीबीएल से हटने और उनकी लीग में खेलने के लिए 700,000 ऑस्ट्रेलियाई डॉलर (लगभग 38.5 मिलियन) की पेशकश की गई है, जिससे क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया परेशान है। अगर ये खिलाड़ी पैसे के लिए अपने देश में लीग छोड़ देते हैं तो यह क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के लिए बहुत बड़ा नुकसान होगा और साथ ही उनकी विश्वसनीयता पर भी सवाल खड़ा करेगा।

संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) इंटरनेशनल लीग (आईएल टी20) ने ऑस्ट्रेलिया के 15 शीर्ष खिलाड़ियों को बिग बैश लीग (बीबीएल) से हटने और उनकी लीग में खेलने की पेशकश की है। ये दोनों लीग एक साथ आयोजित की जाएंगी। बिग बैश लीग 13 दिसंबर से 4 फरवरी तक खेली जाएगी, जबकि IL T20 का पहला संस्करण 6 जनवरी से 12 फरवरी तक खेला जाएगा। ऐसे में ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के लिए दोनों लीग में हिस्सा लेना नामुमकिन है. इसके लिए यूएई लीग ने ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को करोड़ों रुपये की पेशकश की है।

IND vs WI: टीम इंडिया के बल्लेबाजों का अमेरिका में भी धमाका, लेकिन गेंदबाजों ने…

खिलाड़ियों को बीबीएल में खेलने के लिए बाध्य नहीं किया जाता है
सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड के अनुसार, कम से कम 15 ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को बिग बैश लीग से हटने और यूएई लीग में खेलने के लिए 70 लाख डॉलर की पेशकश की गई है। ऑस्ट्रेलिया के शीर्ष खिलाड़ियों के मौजूदा यूनियन अनुबंध के तहत किसी भी खिलाड़ी को बीबीएल में खेलने के लिए मजबूर नहीं किया जा सकता है। डेविड वॉर्नर 2014 में इस लीग में नहीं खेले थे।
CWG 2022: भारत बनाम इंग्लैंड मैच टाइमिंग में बड़ा बदलाव, जानिए कब और कैसे देखना है

बीबीएल खिलाड़ियों को कम भुगतान
डार्सी शॉर्ट 370,000 ऑस्ट्रेलियाई डॉलर (लगभग 2 मिलियन 37 हजार अमेरिकी डॉलर) में बीबीएल का अब तक का सबसे अधिक भुगतान पाने वाला खिलाड़ी था। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को जो भुगतान किया जाता है, उसकी तुलना में यह राशि बहुत कम है। लेकिन आईपीएल लीग मालिकों ने यूएई और क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका में टी20 लीग में भी निवेश किया है और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को बीबीएल के लिए अपने भुगतान ढांचे में सुधार करने की जरूरत है।

यूएई लीग दे रही है करोड़ों की पेशकश
अखबार के अनुसार, “यूएई लीग में खिलाड़ियों को बड़ी रकम की पेशकश की गई है जो कि बीबीएल से कहीं अधिक है, जिससे क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर्स एसोसिएशन दबाव में है।”

(भाषा इनपुट के साथ)

टैग: ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम, बीबीएल, बिग बैश लीग, क्रिकेट खबर, संयुक्त अरब अमीरात

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here