एचबीडी वेंकटेश प्रसाद : 36 हमेशा से पाकिस्तान के नंबर रहे हैं, दर्द कभी नहीं भुलाया जब भी सामना करना पड़ा

0
10

नई दिल्ली। भारत के पूर्व तेज गेंदबाज वेंकटेश प्रसाद आज अपना 53वां जन्मदिन मना रहे हैं। प्रसाद का जन्म 5 अगस्त 1969 को बैंगलोर में हुआ था। उन्होंने देश के लिए अपना पहला वनडे डेब्यू किया। प्रसाद ने अपना वनडे डेब्यू 2 अप्रैल 1994 को न्यूजीलैंड के खिलाफ क्राइस्टचर्च में किया था। इस मैच में उन्होंने नौ ओवर फेंके। हालांकि इस बार उन्हें कोई सफलता नहीं मिली।

इस मैच से उन्होंने देश के लिए कुल 161 वनडे खेले। इस दौरान उन्होंने 160 पारियों में 32.3 की औसत से 196 रन बनाए। वेंकटेश के नाम वनडे प्रारूप में तीन बार चार विकेट और एक बार पांच विकेट लेने का कारनामा है। एकदिवसीय प्रारूप के अलावा, उन्होंने दो साल बाद 1996 में इंग्लैंड के खिलाफ बर्मिंघम में देश के लिए टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया। वह डेब्यू मैच की पहली पारी में चार विकेट लेने में सफल रहे। इसके अलावा दूसरी पारी में भी उन्होंने दो अहम विकेट लिए।

यह भी पढ़ें- IND vs WI, 4th T20I: चौथे T20I में खिलाड़ी का कार्ड काटने का फैसला, स्टार को मिला मौका, प्लेइंग इलेवन

वेंकटेश प्रसाद ने अपने टेस्ट करियर में कुल 33 मैच खेले। इस दौरान उन्होंने 58 पारियों में 35.0 की औसत से 96 रन बनाए। प्रसाद के नाम टेस्ट क्रिकेट में एक बार चार और सात पांच विकेट लेने का कारनामा है। टेस्ट क्रिकेट में उनकी सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी के आंकड़े 33 रन देकर छह विकेट थे।

36 का आंकड़ा हमेशा पाकिस्तान के पास रहा है:

क्रिकेट के मैदान पर जब भी वेंकटेश प्रसाद का सामना पाकिस्तान टीम से हुआ तो उनका प्रदर्शन हमेशा शानदार रहा। इसके अलावा पाकिस्तानी खिलाड़ियों के साथ भी उनके रिश्ते काफी तनावपूर्ण रहे थे। 1996 वर्ल्ड कप में भारत और पाकिस्तान आमने-सामने थे। प्रतियोगिता का उत्साह चरम पर था। इस बीच टीम इंडिया के लिए वेंकटेश प्रसाद ने मैच का 15वां ओवर फेंका। उनके ओवर की पांचवीं गेंद पर विपक्षी कप्तान आमेर सोहेल ने शानदार चौका लगाया और फिर अपना बल्ला दिखाकर उन्हें चिढ़ाया. मैदान में सोहेल की ये हरकत देख हर कोई हैरान रह गया. हालांकि इस बार प्रसाद खामोश रहे और अगली ही गेंद पर विपक्षी बल्लेबाज को बोल्ड कर अच्छी प्रतिक्रिया दी. प्रसाद का ये बदला क्रिकेट के इतिहास में हमेशा याद किया जाएगा.

इस मैच की बात करें तो भारत द्वारा निर्धारित 288 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तान की टीम निर्धारित ओवर में 9 विकेट के नुकसान पर 248 रन ही बना सकी. वेंकटेश प्रसाद ने इस मैच में टीम के लिए शानदार प्रदर्शन करते हुए 10 ओवर में 45 रन बनाकर तीन सफलता हासिल की। प्रसाद द्वारा शिकार किए गए विपक्षी खिलाड़ियों में कप्तान अमीर सोहेल के साथ-साथ एजाज अहमद और इंजमाम-उल-हक के विकेट थे। टीम इंडिया ने इस मैच को 39 रन से जीत लिया।

टैग: भारतीय क्रिकेट, भारतीय क्रिकेट टीम, भारतीय क्रिकेटर, इस दिन, वेंकटेश प्रसाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here