ईओडब्ल्यू की छापेमारी के बाद क्लर्क को जहर: 85 लाख रुपये नकद, घर में मिली नोट गिनने की मशीन

0
9


भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में चिकित्सा शिक्षा में तैनात एक लिपिक के घर पर बुधवार को ईओडब्ल्यू की टीम ने छापेमारी की. इस छापेमारी में उनके घर से करोड़ों की बेनामी संपत्ति का खुलासा हुआ है. ईओडब्ल्यू ऑपरेशन के दौरान सरकारी कर्मचारी ने जहर खा लिया। उसके बाद उसकी हालत बिगड़ने पर ईओडब्ल्यू की टीम ने उसे तुरंत हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया। इसके बाद परिजनों की मौजूदगी में घर की तलाशी ली। छापेमारी के दौरान लिपिक हीरो केसवानी के घर से अब तक 10 से अधिक संपत्तियां और 85 लाख रुपये नकद बरामद किए गए हैं. ईओडब्ल्यू की टीम ने नोट गिनने के लिए मशीन मंगवाई है। संपत्ति करीब 4 करोड़ रुपए की है।

मिली जानकारी के अनुसार ईओडब्ल्यू को बैरागढ़ के बाजार में रहने वाले हीरो केसवानी की बेनामी संपत्ति की जानकारी मिली थी. ईओडब्ल्यू की टीम ने उनके घर पर छापा मारा। छापेमारी की शुरुआत में केसवानी के घर से करोड़ों रुपये की बेनामी संपत्ति का पता चला था। कई बेनामी संपत्तियों के ब्योरे के बारे में लिखे गए महत्वपूर्ण दस्तावेजों की जांच शुरू कर दी गई है। ईओडब्ल्यू को जिस तरीके से यह जानकारी मिली है उससे निकट भविष्य में कई बड़े खुलासे होने की संभावना है।

आरोपी ने खाया जहर
बता दें, ईओडब्ल्यू की टीम जैसे ही क्लर्क हीरो केसरवानी के घर पहुंची और कार्रवाई की तो उसने जहर खा लिया. इससे उसकी हालत बिगड़ गई। यह देख ईओडब्ल्यू की टीम ने तुरंत उसे इलाज के लिए हमीदिया अस्पताल भेज दिया। फिलहाल उसकी हालत नाजुक बताई जा रही है। इसके बाद ईओडब्ल्यू की टीम ने परिजनों की मौजूदगी में तलाशी जारी रखी और कई अहम दस्तावेज जब्त किए. जब ईओडब्ल्यू कार्रवाई कर रहा था, तभी उसके हाथ में कई अहम जानकारियां आई।

ये बातें हुईं सामने
बताया जाता है कि यहां से ईओडब्ल्यू टीम को 85 लाख नकद मिले हैं। उन्होंने नोट गिनने के लिए एक मशीन मंगवाई है। वहीं 10 से अधिक संपत्तियों के दस्तावेज भी मिले हैं। इनकी कीमत करीब 4 करोड़ रुपए है। केसवानी के पास बैरागढ़ में 1.5 करोड़ का घर, 1 स्कूटर और तीन कारें हैं। भ्रष्टाचार के आरोपी सतपुड़ा भवन में छठी मंजिल पर बैठे हैं। केसवानी के पास आयुष्मान भारत योजना और स्वायत्त संस्थानों के विभाग की जिम्मेदारियां थीं। इस छापेमारी के बाद प्रशासन ने क्लर्क हीरो केशवानी को सस्पेंड कर दिया है. मिली जानकारी के मुताबिक उन्होंने भोपाल के सागर मेडिकल कॉलेज में दाखिला लिया है.

टैग: भोपाल समाचार, ईओडब्ल्यू, एमपी न्यूज



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here