असली वर्दी में फर्जी पुलिस कर रही थी अवैध वसूली, आईजी के नाम पर हो रही थी लूट

0
9


भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में गुरुवार को एक अजीबोगरीब वाकया हुआ. भोपाल की रियल पुलिस ने वर्दी में फर्जी पुलिस को किया गिरफ्तार। दो फर्जी पुलिसकर्मी वाहन से अवैध वसूली कर रहे थे। वसूली के लिए वे आईजी रैंक के अधिकारियों का नाम ले रहे थे। इन आरोपियों के पास से पुलिस का पहचान पत्र, वायरलेस सेट समेत कई सामान बरामद किया गया है. पुलिस ने बताया कि आरोपितों ने कई जिलों में फर्जी पुलिसकर्मी बनकर अवैध वसूली की। दोनों सिंगरौली जिले हैं। इतना ही नहीं इस अपराध में आरोपी 5 बार जेल जा चुके हैं। पुलिस अब उससे और पूछताछ कर रही है।

दिलचस्प बात यह है कि गुरुवार को बड़सिया थाने को सूचना मिली कि दो पुलिसकर्मी सड़क पर खड़े होकर वाहनों से पैसे वसूल रहे हैं. इससे वाहनों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इसकी सूचना मिलते ही बड़सिया थाना पुलिस वहां पहुंच गई। घटना का दृश्य देख पुलिस भी सहम गई। पुलिस कर्मियों ने देखा कि दो आदमी वर्दी में थे और उनके हाथों में वायरलेस सेट की तरह सब कुछ था। इसके बाद पुलिस उनके पास गई और उनसे पूछताछ की। जब वे पुलिस के कुछ सवालों पर फंस जाते हैं तो पूरा रहस्य खुल जाता है। दोनों आरोपियों ने भागने का प्रयास किया लेकिन भाग नहीं सके। पुलिस उन्हें मौके से पकड़कर थाने ले आई।

आईपीएस अधिकारियों के नाम पर वसूली
पुलिस ने बताया कि दोनों के नाम भगवानदास और रामकिशोर थे। दोनों सिंगरौली जिले के रहने वाले हैं। आरोपियों के पास से पुलिस के फर्जी पहचान पत्र भी बरामद किए गए हैं। पुलिस ने उसके खिलाफ धारा 419, 420, 171, 34 के तहत मामला दर्ज किया है। इनके खिलाफ जांच शुरू कर दी गई है। पुलिस ने बताया कि दोनों आरोपी आईपीएस तिलक सिंह, विजय कुमार समेत कई अन्य अधिकारियों के साथ भोपाल जोन के आईजी इरशाद वाली के नाम से रंगदारी वसूल करते थे.

इन जिलों में हुए अपराध
पुलिस ने बताया कि दोनों आरोपियों ने सतना, सिंगरौली, जबलपुर, कटनी, बालाघाट, नरसिंहपुर समेत कई जिलों में अवैध वसूली की है. आरोपी अपने व्हाट्सएप पर शराब, रेत, क्रशर ठेकेदारों को बुलाते थे और आईपीएस की डीपी जमा करते थे। इन दोनों फर्जी पुलिसकर्मियों के पास से वायरलेस सेट, सर्दी-गर्मी की वर्दी जब्त की गई है। अवैध वसूली के आरोप में आरोपी पूर्व में 5 बार जेल जा चुके हैं। पुलिस अब इस बात की जांच कर रही है कि क्या इन दोनों में कोई और शामिल है या किसने वारदात को अंजाम दिया।

टैग: भोपाल समाचार, एमपी न्यूज



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here